श्री भादरिया माता

 माँ भादरिया राय की माँ भादरिया राय को  जी भी कहते है क्या आपको पता है क्यों कहते है । इसके पीछे कहानी है दरअसल चन्द्र वंश भाटी कुल की कुलदेवी कालिका माता है ।जब श्री कृष्ण ओर जरासंघ के बीच युद्ध हुआ तब श्री कृष्ण जी सहायता के लिए साक्षात देवी ने प्रकट होकर जरासंघ से भाला छीना था ।भाले को स्वांग कहते है इसलिए ही उस दिन से देवी जी कहलाई जो भाला छीना था भाला मुड़ गया आज भी भाटियों के चिन्ह में।वह भाला मुड़ा हुआ आपको नजर आएगा ।चिन्ह में कमेंट बॉक्स में डालता हु आप देख सकते है इस भाटी हिस्ट्री बुक्स में ओर भी इतिहास में इस बात का जिक्र है दूसरा भाटी वंश कुलदेवी भादरिया राय #स्वांगिया जी एक ही है नाम दो है ।तनोट माता भी कुलदेवी के रूप में भाटी मानते है क्यों कि राव तनुराव ने 800 के करीब तनोट बसाया था तथा माता तनोट का मंदिर बनाया था यह सब दैवीया माँ हिंगलाज की अवतार है हिंगलाज माता का मन्दिर बलूचिस्तान सिन्ध पाकिस्तान में है जो कि भारत के 52 शक्तिपीठ में से एक है ।।जानकारी अच्छी लगी तो शेयर कीजिये

Hits: 0

Updated: March 15, 2019 — 12:41 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *