Month: March 2019

श्री शक्ति माता

श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना संगठन से जुड़े जो भी युवा अगर किसी महिला, माता-बहन और मातृ शक्ति के खिलाफ सोसिअल मीडिया पर अभद्र भाषा की टिप्णियां या पोस्टें करते हुए पाए जाते हैं, तो उनके विरूद्ध कठोर अनुशासनात्मक तथा कानूनी कार्रवाई की जाएगी, श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना समाज के प्रति जवाबदेह एक लोकप्रिय […]

श्री चिलाय माता

श्री चिलाय माता तौमर राजपूतों की कुल देवी ।तूं सगती तंवरां तणी ,चावी मात चिलाय।म्हैर करी अत मात यूं ,दिल्ली राज दिलाय ।।कुलदेवीयों व् कुल देवताओं की परम्परा भारतीय संस्कृति में प्राचीन काल से चली आ रही है ।समाज में वर्ण व्यवस्था की स्थापना के साथ ही चारों वर्णों ने अपनी -अपनी कुल परम्परा के […]

श्री भादरिया माता

 माँ भादरिया राय की माँ भादरिया राय को  जी भी कहते है क्या आपको पता है क्यों कहते है । इसके पीछे कहानी है दरअसल चन्द्र वंश भाटी कुल की कुलदेवी कालिका माता है ।जब श्री कृष्ण ओर जरासंघ के बीच युद्ध हुआ तब श्री कृष्ण जी सहायता के लिए साक्षात देवी ने प्रकट होकर जरासंघ […]

श्री योगेश्वरी माता

( क्षत्रियो की कुलदेवियों के नाम ) १- गहलौत , सिसोंदिया — श्री बाणेश्वरी माता २- राठौर — श्री नागणेच्या माता ३- कछवाह — श्री जमवाय माता ४- चौहान — श्री आशापूर्णा माता ५- भदौरिया — श्री कालिका माता ६- जादौन — श्री योगेश्वरी माता ( माँ कैला देवी , करौली ) ७_ भाटी — […]

rajputan

कालिका देवी, नेकनूर महाराष्ट्रातील कालिका मातेचा नऊ शक्तिपीठांपैकी श्रीक्षेत्र नेकनूर देवीचे क्षेत्र हे एक महत्वाचं आहे. ही देवी निनगुर माता, कालिका माता, आईसाहेब म्हणून प्रसिद्ध आहे. प्रेरणाशक्ती व सोमवंश क्षत्रिय कासार समजाची आराध्यदेवता, अशी ही कालिका माता महाराष्ट्रातील कासारांची देवी आहे. हे गाव बीड जिल्हेतील शिंदफना नदीतीरी नेकनूर येते वसले आहे. मंदिराच्या काही भागाची रचना […]

श्री आशापूर्णा माता

( क्षत्रियो की कुलदेवियों के नाम ) १- गहलौत , सिसोंदिया — श्री बाणेश्वरी माता २- राठौर — श्री नागणेच्या माता ३- कछवाह — श्री जमवाय माता ४- चौहान — श्री आशापूर्णा माता ५- भदौरिया — श्री कालिका माता ६- जादौन — श्री योगेश्वरी माता ( माँ कैला देवी , करौली ) ७_ भाटी — […]

** कछवाह राजवंश की कुलदेवी श्री जमवाय माता **

आज आपको हम कछवाह राजवंश की कुलदेवी के बारे में बताते है । । अयोध्या राज्य के राजा भगवान श्री रामचन्द्र जी के पुत्र राजा कुश के वंशज कछवाह कहलाते है । जिनका राज्य अयोध्या से चलकर रोहताशगढ ( बिहार ) में रहा , वहा से चलकर इन्होने अपनी राजधानी नरवर ( ग्वालियर राज्य ) […]

etiyas of rajputan

👉#समय हो तो एक बार जरुर पढ़े ये गर्व से आपका सीना चोरा जरुर हो जायेगा I 👉भारत के कुल 565 #रियासतों में से 400 से भी जय्दा #राजपूत रियासते थी I 👉जरा सोचिये की यदि ये रियासते भारत में विलय न हुए होते तो भारत का आकार इतना विसाल नहीं होता ! ये #राजपूत रियासते ही है जिन्होंने सबसे […]

youva shatriya sena

आज इस बढ़ते नये दौर में हमारा युवा अपने बुनियादी लक्ष्य से बहुत दूर है, वह एक लक्ष्यहीन निरूद्देश्य सोच को लिये हुये है। निरूद्देश्य होना कार्य करना, पढ़ना, बढ़ना आदि के लिऐ सुप्त अवस्था है जो कि एक नई सोच –दृढसंकल्प और कठोर प्रतिज्ञा से दूर हो सकती है।मेरा सोचना यह है कि जीवन […]

Bhramanni mataji of rajputan

******* जय माँ श्री बाणेश्वरी माता जी **********सिसोंदिया राजवंश की कुलदेवी का नाम बाण माता है , इतिहासिक सूत्रो के मुताबिक सिसोंदिया , गहलौत राजवंश की कुलदेवी का नाम बायण माता या बाण माता इसलिये है क्यो कि जब हमारे पूर्वज सौराष्ट्र ( गुजरात ) से यहा चित्तौडगढ आये तब वहा गुजरात में नर्मदा नदी […]